post-thumb

13 जड़ी-बूटियां जो घर के बगीचे में उगाई जा सकती हैं (jadi-bootiyan jo ghar mein uga sakte hein)

औषधीय जड़ी-बूटियाँ और फूल उन सामान्य बीमारियों या स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज का शानदार तरीका है जो आमतौर से घर पर होती रहती हैं। यह हमारी चिकित्सा प्रणाली पर पढ़ रहे बोझ को कम करने में भी मदद करता है।

मुझे अपने बगीचे में कौन सी जड़ी-बूटियां उगानी चाहियें ? (ghar mein kaunsi jadi bootiyan ugani cahiyein?)

इसका उत्तर सभी के लिए समान नहीं है। आपको उन जड़ी-बूटियों को उगाने की ज़रूरत है जो आपके परिवार में नियमित रूप से होने वाली स्वास्थ्य समस्याओं का इलाज करती हैं।

कुछ लोग तो यह भी नहीं जानते कि कहां से शुरू करना है, वे यह भी नहीं जानते हैं कि वे कौन सी जड़ी-बूटियां होंगी जिनकी उनको सबसे अधिक आवश्यकता होगी। इसलिए मैंने लगभग 13 जड़ी-बूटियों की एक सूची तैयार की है, जो घर के बगीचे में आसानी से उगाई जा सकती हैं और जो बड़ी संख्या में बुनियादी स्वास्थ्य समस्याओं और सामान्य बीमारियों के लिए उपयोगी हैं।

बस कुछ एक मुट्ठी भर जड़ी-बूटियों का चयन करना एक तरह से कठिन कार्य है और ऐसा इसलिए है क्योंकि सभी जड़ी-बूटियाँ अद्भुत होती हैं। इसलिए इस सूची के लिए मैंने उन जड़ी बूटियों को चुना है जो आसानी से सुलभ हैं, या तो बीज के रूप में या नर्सरी में।

ठीक है, चलिए देखते हैं वो बहुउपयोगी जड़ी-बूटियां कौन सी हैं।

Table of Contents
  • पुदीना (पेपरमिंट)
  • कैलेंडुला (गेंदा)
  • बर्गामोंट (बी बाम)
  • लेमन बाम
  • तुलसी
  • एचिनासा
  • तेजपत्ता
  • ओरिगैनो
  • लहसुन
  • हॉर्सरैडिश
  • सहस्रपर्णी
  • बाबूने का फल
  • शतपुष्प सोआ

पुदीना (पेपरमिंट) - Peppermint

peppermint herb

आपको पेपरमिंट के साथ वास्तव में सावधान रहना होगा क्योंकि यह इनवेसिव हो सकता है। यह आपके पूरे बगीचे में फैल सकता है। इसका एक अच्छा उपाय ये है की आप पेपरमिंट को किसी कंटेनर में उगायें।

पुदीना के फायदे

  • पेपरमिंट अविश्वसनीय रूप से उपयोगी है। यह पेट के मुद्दों, साइनस के मुद्दों के लिए उपयोगी है।

  • इसमें अच्छा शीतलन गुण भी है। तेज गर्मी के दिन में एक कप पेपरमिंट आइस्ड टी एक अद्भुत पेय साबित हो सकती है। यदि आपको सनबर्न हुआ है, तो यह वास्तव में उसके साथ होने वाले दर्द को कम करने में मदद कर सकता है।

  • सिरदर्द, मोशन सिकनेस और मॉर्निंग सिकनेस के मामले में भी यह वास्तव में उपयोगी है। मुझे पता है कि वास्तव में मोशन सिकनेस को ठीक करने के लिए सबसे अधिक अदरक खाने की राय दी जाती है, परन्तु अदरक खाना मुझे ख़ास पसंद नहीं; ये मेरे पेट में गड़बड़ करता है। इसलिए पेपरमिंट वह चीज है जिसका इस्तेमाल मैं करता हूं।

  • ज्यादातर लोग पेपरमिंट को पसंद करते हैं। तो आप किसी दोस्त के घर पर आने पर उन्हें पेपरमिंट आइस्ड चाय पेश कर सकते हैं। ये वास्तव में उन्हें पसंद आएगी|

कैलेंडुला (गेंदा) - Calendula

calendula herb

यह एक स्व-बुवाई वाली जड़ी-बूटी है| अर्थात यह जहाँ उगती है वहां अपना बीज गिरा देती है और फिर अगले साल उसी स्थान पर वापस उग जाती है। एक बार अगर आपने इसे जमीन में बो दिया, तो आपको बार-बार बीज खरीदने की आवश्यकता नहीं होती है।

यह घर में कई चीज़ों में उपयोग की जा सकती है। इसलिए मैं कैलेंडुला जड़ी बूटी घर के बगीचे में लगाने की सलाह देता हूं।

गेंदा के फायदे

  • यह त्वचा के सभी मसलों को कवर करने में काफी अच्छा काम करता है, चाहे वह चकत्ते हो, मामूली घाव हो इत्यादि।
    यह एंटिफंगल भी है। इसलिए इसका इस्तेमाल करने के लिए डायपर रैश एक बेहतरीन जगह है।

  • यह एक लिम्फ स्टीमुलेंट भी है। इसका मतलब है, यदि आपके बीमार होने पर लिम्फ ग्रंथियों में सूजन आ गई है, तो यह उसमे मदद करता है। हम इसे चाय के रूप में ले सकते हैं। मैं यह नहीं कह सकता कि मुझे इसका स्वाद बहुत पसंद है, लेकिन इसमें पुदीना जैसा कुछ और मिला देने से यह वास्तव में काफी प्रभावी हो जाता है।

  • कीड़े इसके फूलों की तरफ काफी आकर्षित होते हैं, इसलिए यह एक अद्भुत परागकण पौधा है।

  • यह फूड डाई या फैब्रिक डाई के लिए अद्भुत है| इसका इस्तेमाल आप हर्बल चाय में रंग डालने के लिए भी कर सकते हैं।

बर्गामोंट (बी बाम) - Bergamot / Bee balm

bee balm herb

यह कई अलग-अलग नामों से जाता है - बी बाम, बर्गामोंट, इत्यादि, पर इसका तकनीकी नाम मोनार्दा (monarda) है।

यह मिंट परिवार से है और ये बहुत तेजी से फैल कर आपके पूरे बगीचे को कब्ज़ा सकता है। इसलिए आपको इसे एक कंटेनर में उगाना चाहिए। क्यूंकि इसे रोक के रखना थोड़ा कठिन है, इसलिए आप इसे यार्ड के एक किनारे पर ऊगा सकते हैं, जहाँ इसको थोड़ा फैलने की जगह भी मेल जाएगी।

इसके बारे में एक बेहतरीन बात यह है कि इसके फूल बहुत खूबसूरत होते हैं। यह आपके बगीचे को फूलों के बगीचे जैसा बना देगा।

बी बाम के फायदे

  • यह एक बहुत ही अच्छी रोगाणुरोधी जड़ी बूटी है, इसलिए यह एंटिफंगल, एंटीवायरल और जीवाणुरोधी हर्ब के रूप में जाना जाता है। यह खांसी और पेट दर्द के लिए अच्छा है।

  • यह एक बहुत ही सौम्य जड़ी बूटी मानी जाती है और इसलिए यह बच्चों के लिए भी इस्तेमाल में लायी जा सकती है।

लेमन बाम (Lemon balm)

lemon balm herb

लेमन बाम भी एक ऐसी जड़ी बूटी है जो मिंट परिवार से है। इसे बहुत सारे उपयोग हैं और यह अविश्वसनीय रूप से सौम्य है। इसके अलावा, इसका स्वाद बहुत अच्छा है। इसमें एक हल्का सा नींबू का स्वाद आता है।

हालांकि यह बहुत सौम्य है, पर साथ ही साथ यह बहुत प्रभावी भी है। हैलोपथिक दवाओं की दुनिया में कोई दवा जितनी प्रभावी होती है, उतनी ही खतरनाक भी होती है। पर हर्बल दुनिया में ऐसा नहीं है, जो की एक अद्भुत बात है। हर्बल दुनिया में चीजें एक ही समय में शरीर पर सौम्य और प्रभावी दोनों हो सकती हैं। जड़ी-बूटियां वास्तव में उसी ऊतक या शरीर के उस हिस्से को प्रभावित करती है जिसे उन्हें प्रभावित करने की आवश्यकता होती है| शरीर के बाकी हिस्सों पर वो कोई गलत असर नहीं डालतीं, यानि उनके कोई ज्यादा साइड-इफेक्ट्स नहीं होते।

लेमन बाम के फायदे

  • लेमन बाम बुखार को तोड़ने के लिए अविश्वसनीय रूप से अच्छा है।

  • यह नसों को शांत करने के लिए बहुत मददगार है। यदि आप तनाव महसूस कर रहे हैं, तो आप बाहर जाईये और बस इसे सूँघिये| यह आपको लगभग तुरंत आराम महसूस कराएगा।

तुलसी (Holy Basil)

tulsi herb

भारत मैं तुलसी का पौधा लगभग हर घर में पाया जाता है| इसके कई लाभ हैं, जैसे की वायु शुद्धिकरण, स्वास्थ्य इत्यादि|

तुलसी के लाभ

  • ऊर्जा के लिए तुलसी एक बेहतरीन जड़ी-बूटी है।

  • यदि आपको ब्लड शुगर है और तनावपूर्ण स्थिति होने पर आप बड़ी आसानी से परेशान हो जाते हैं, तो यह इसलिए है क्योंकि आपका शरीर तनाव से निपटने के लिए विभिन्न हार्मोनल बदलाव करता है| तुलसी आपके शरीर को तनाव झेलने में मदद करती है। लेमन बाम की तरह सिर्फ आपकी नसों को ही नहीं, बल्कि आपके पूरे शरीर को।

  • तुलसी ध्यान केंद्रित करने की क्षमता की कमी जैसे मुद्दों के लिए अद्भुत है। यह अवसाद-रोधी भी है। यदि आप थोड़ा उदास महसूस कर रहे हैं, तो इसका सेवन बहुत मददगार होता है।

  • यह थोड़ी रोगाणुरोधी या जीवाणुरोधी भी है, और इसलिए यह मुंह धोने और कुल्ला करने के लिए विशेष रूप से अच्छी होती है।

एचिनासा (Echinacea)

echinacea herb

एचिनासा पौधे के सारे हिस्से फायदेमंद होते हैं, जैसे की पत्तियों, फूल और तना, लेकिन इसकी जड़ें सबसे अधिक फायदेमंद होती हैं।

आप दूसरे वर्ष तक इसकी कटाई (harvesting) नहीं कर सकते। इसलिए इसके साथ आपको थोड़ा धैर्य रखना होगा। एक बार जब यह स्थापित हो जाता है तो इसे बगीचे में और जगह फैलाना आसान हो जाता है।

एचिनासा के प्रयोग

  • यह एक प्रतिरक्षा स्टीमुलेंट है। इसका मतलब है कि यह आपके शरीर को आक्रमणकारियों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई करने में मदद करता है।

  • परन्तु वास्तव में यह प्रतिरक्षा बढ़ाने के लिए सबसे ज्यादा नहीं जाना जाता है। यह जिस चीज़ के लिए जाना जाता है और लंबे समय से यह जिसके लिए उपयोग में लाया जाता रहा है, वो है संक्रमण निरोधी जड़ी बूटी के रूप में। आपकी त्वचा पर कोई बाहरी संक्रमण या गले में खराश जैसी कोई चीज। आप बाहर बगीचे में जाकर इसकी जड़ खोद सकते हैं और उसे चबा सकते हैं। आप आश्चर्यचकित होंगे कि यह आपको कितनी जल्दी गले में खराश या सर्दी से निजात दिला सकता है।

तेजपत्ता (sage)

sage herb

  • अगर मुझे मुंह के छाले, गले में खराश या दांत की समस्या जैसी कोई परेशानी होती है, तो यह उन पहली जड़ी-बूटियों में से एक है जिसका में इस्तेमाल करता हूं ।

  • इसका उपयोग दांतों को सफेद करने के लिए भी किया जाता है। बहुत सारे हर्बल टूथ पाउडरों में आपके दांतों को सफेद करने में मदद करने के लिए इस जड़ी बूटी का इस्तेमाल किया जाता है।

  • यह महिलाओं में रजोनिवृत्ति की परेशानियों को सही करने में भी असरदार है।

  • यह मस्तिष्क में ऑक्सीजन और रक्त के प्रवाह को बढ़ाता है। इस कारणवश बहुत से लोग इसका उपयोग कन्कशन या सिर पर चोट लगने जैसी चीजों के बाद आने वाले मस्तिष्क तथा स्मृति सम्बन्धित मुद्दों के लिए करते हैं।

  • इसका उपयोग पाकशाला में भी है और शेफ इसे विभिन्न व्यंजनों में उपयोग करना पसंद करते हैं।

ओरिगैनो (Oregano)

oregano herb

अजवाइन की हरी पतियों को ही हम ओरिगैनो बोलते हैं |

मैं अजवायन के बिना बगीचा नहीं रखना चाहूंगा, क्योंकि यह पिज्जा के साथ बहुत अच्छा लगता है।

ओरिगैनो के फायदे

  • यह एक मजबूत रोगाणुरोधी जड़ी बूटी है। यह एंटीवायरल और एंटिफंगल भी है।

  • इसमें एंटीऑक्सिडेंट इतने अधिक हैं कि यह कुछ हद तक आपको कैंसर से भी बचाता है।

लहसुन (Garlic)

garlic herb

लहसुन को हर औषधीय उद्यान में उगाया जाना चाहिए। हम जानते हैं कि यह एक आम खाद्य प्रदार्थ है। इसलिए, इसका सेवन करना हमें सुरक्षित लगता है। आप बहुत अधिक मात्रा में भी इसका उपभोग कर सकते हैं, अपने भोजन के साथ।

लहसुन के फायदे

  • लहसुन एक सुपर एंटीबायोटिक और एंटिफंगल जड़ी बूटी है।

  • यह दांत के फोड़े, वायरल संक्रमण जैसे जुकाम आदि जैसी चीजों में मदद करता है।

हॉर्सरैडिश (Horseradish)

horseradish herb

हॉर्सरैडिश को “गरीब आदमी की एंटीबायोटिक” कहा जाता था, क्योंकि एक बार जब आप इसे बगीचे में लगा देते हैं तो आपको फिर कुछ करने की ज़रूरत नहीं होती है। आपको इस पर बहुत अधिक धन खर्च करने की आवश्यकता नहीं है। यह आराम से मरता नहीं है|

यह बहुत तेजी से फैलता है| इसलिए इसको एक पात्र में उगाएं और बढ़ने दें।

यह विभिन्न प्रकार के संक्रमणों के लिए काम करता है, जैसे साइनस, ब्रोन्कियल (bronchial) और मूत्र पथ के संक्रमण। वास्तव में बाजार में मूत्र पथ के संक्रमण के लिए मिलने वाली कुछ प्रमुख दवाईयां में हॉर्सरैडिश के कंपाउंड होते हैं |

सहस्रपर्णी (Yarrow)

yarrow herb

सहस्रपर्णी आपको आराम से इधर उधर उगता मिल जायेगा, लेकिन मैं इसे अपने बगीचे में भी उगाता हूं, क्योंकि जरूरत पड़ने पर मुझे यह जल्द से जल्द चाहिए होता है। इसका कारण यह है कि यह रक्तस्राव को रोकने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक है। यह बहुत तेज़ी से गहरे घावों से खून बहना बंद कर देता है और इसलिए मुझे यह सुनिश्चित करना पसंद है कि ये हमेशा मेरी पहुंच में हो।

यह फ्लू के उपचार के लिए भी प्रसिद्ध है, क्योंकि यह बुखार को कम कर सकता है। यह पसीने लाता है और उससे बुखार उतारने में मदद मिलती है।

बाबूने का फल (Chamomile)

chamomile herb

यह बहुत कोमल जड़ी बूटी है, इसलिए बच्चों पर भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। ये नए नवेले शिशुओं, जिनका पेट ख़राब है या जिनको गैस है , उनके लिए काफी उपयोगी होती है|

कैमोमाइल को हम आंखों की समस्याओं के लिए के लिए भी उपयोग करते हैं। यह नेत्रश्लेष्मलाशोथ (conjunctivitis) और आंख के अन्य सभी प्रकार के मुद्दों और परेशानियों में काफी कारगर साबित होता है।

यह बुखार को काम कर सकता है। सीधे आंतों में डालने पर यह वास्तव में जल्दी काम करता है। कभी-कभी छोटे बच्चों को रहस्यमय बुखार हो जाता है, और हमे यह पता ही नहीं चलता की ऐसा क्यों हुआ है। ऐसे मामलों में कैमोमाइल को एनीमा जरिये सीधे आंत में डाला जा सकता है। ऐसा करने पर यह पांच मिनट में भी बुखार को कम कर सकता है। साथ ही साथ, ऐसा करने पर यह आंतों में आयी किसी भी रुकावट को भी साफ करने में मदद करता है, जो अक्सर छोटे बच्चों में उस प्रकार के रहस्यमय बुखार का कारण हो सकती है।

शतपुष्प सोआ (Dill)

dill herb

परेशान पेट को त्वरित राहत देने के लिए डिल एक अद्भुत चीज है। आप इसके बीज को चबा सकते हैं और यह आश्चर्यजनक रूप से, बड़ी तेजी से आपके पेट की परेशानी को दूर करने में मदद कर सकता है; खासकर अगर आप पेट में गैस या सूजन की वजह से परेशान हैं।

इसके अलावा यह अवसाद को दूर करने में भी मदद करता है।

यह दर्दनाक माहवारी में भी मदद कर सकता है।

उपसंहार

तो आप अपने बगीचे में उगती इन जड़ी बूटियों का प्रयोग करके ही बहुत सी बिमारियों का इलाज कर सकते हैं। इसलिए में सलाह देता हूं की अगर ये पहले से आपके पास नहीं हैं, तो आप इन्हें इस साल अपने बगीचे में जरूर लगाएं।

यदि आपको शुरू करना है, तो इस लेख में सूचीबद्ध जड़ी-बूटियों में से कुछ के साथ शुरू करें। क्योंकि सिर्फ इन मुट्ठी भर पौधों से आपको बहुत सारे स्वास्थ्य संबंधी मुद्दों को सँभालने में मदद मिलेगी।

इन जड़ी बूटियों में से बहुत सी जड़ी-बूटियां बारहमासी है। उन्हें निरंतर देखभाल की आवश्यकता नहीं होती है। अगर आप अपने काम में व्यस्त रहते हैं और बागानी सिर्फ आपका शौक़ है, तो आपको ऐसे ही पौधे लगाने चाहियें जिनकी ज्यादा देखभाल ना करनी पड़े|

यह किसी भी तरह से निर्णायक सूची नहीं है। इसके अलावा इस लेख में सूचीबद्ध जड़ी बूटियों महत्व के क्रम में नहीं हैं। हर व्यक्ति और परिवार के लिए ज्यादा महत्पूर्ण जड़ी-बूटी पृथक होगी।

कृपया इस सूची में और भी जड़ी बूटियों को जोड़ने के लिए अपने को स्वतंत्र महसूस करें, चाहें तो कुछ को बाहर भी निकाल सकते हैं, या इनका क्रम भी बदल सकते हैं। अगर आपकी सूची हमसे भिन्न है, तो हमको इसके बारे में कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं।

चेतावनी

यद्यपि हर्बल जड़ी-बूटियों से साधारणः कोई नुकसान नहीं होता है, तब भी आपको इनका सेवन करने से पहले किसी आयुर्वेदिक डॉक्टर से परामर्श जरूर करना चाहिए| खासतौर से बच्चे, बुजुर्गों, गर्भवती महिलाओं तथा पहले से किसी मर्ज से पीड़ित रोगियों को|

Share on:
comments powered by Disqus