post-thumb

दवा के बिना कब्ज से छुटकारा (kabj ke gharelu upay)

कब्ज बहुत आम है और सभी उम्र के लोगों को प्रभावित करता है। इस लेख में हम जानेंगे कि दवा के बिना कब्ज से कैसे छुटकारा पाया जा सकता है और प्राकृतिक तथा हर्बल तरीकों का उपयोग करके इसे होने से ही कैसे रोका जाए।

अगर आपको कब्ज़ है और आप चुपचाप इससे जूझ रहे हैं, तो हम आपको ये बता दें कि कई बार कब्ज साधारण भोजन सम्बन्धी सावधानियों और जीवनशैली में बदलाव से भी ठीक हो सकता है।

Table of Contents (in Hindi)
  • कब्ज क्या होता है?
  • अपना पेट साफ़ करने के टिप्स

कब्ज क्या होता है? (kabj kya hota hai?)

सबसे पहले हम कब्ज को परिभाषित करते हैं। हम सभी अलग-अलग हैं, इसलिए हमारी शौच की आदतें भी अलग-अलग हैं। लेकिन आम तौर पर कब्ज की दिक्कत तब होती है जब आप सही समय पर या हर दिन अपना पेट खाली नहीं करते हैं या जब आप सख्त मल पास कर रहे होते हैं। ऐसे में अक्सर मल के साथ खून भी आता है और दर्द भी होता है।

अपना पेट साफ़ करने के टिप्स (apna pet saaf karne ke tips)

टिप नंबर 1: पर्याप्त फाइबर खाएं

हम सभी जानते हैं कि फाइबर कब्ज को दूर करने में मदद कर सकता है और इसीलिए आप बहुत अधिक फाइबर सप्लीमेंट लेते हैं। इससे अच्छा ये है की आप अपने आहार में फाइबर युक्त भोजन सेवन ज्यादा करना शुरू करें और फाइबर सप्लीमेंट तब ही लें जब आपको उसकी बहुत जरुरत मेहसूस हो।

फाइबर के अच्छे स्रोतों में फल, सब्जियां, बीन्स, और दाल शामिल हैं। मूल रूप से कोई भी भोजन जो प्रोसेस्ड नहीं होता है या जो कि एक पशु उत्पाद नहीं है, उसमे आमतौर पर फाइबर होता है। पपीता और संतरे जैसे फल यहाँ बहुत अच्छा काम करते हैं।

टिप नंबर 2: पर्याप्त पानी पिएं

जब आप निर्जलित होते हैं तो आपका शौच निर्जलित होता है। जिसका अर्थ है कि शौच बृहदान्त्र में चलने में कठिनाई उत्पन्न करती है। हाइड्रेटेड शौच ही स्वस्थ शौच होती है। इसलिए सुनिश्चित करें कि आप पर्याप्त पानी पी रहे हैं।

यदि आप अधिक फाइबर खा रहे हैं तो आपको वास्तव में अधिक पानी पीने की जरूरत है, क्योंकि फाइबर पानी को अधिक अवशोषित करता है। यदि आप काफी फाइबर खा रहे हैं और पर्याप्त पानी नहीं पी रहे हैं तो आपको कब्ज होना अवश्यंभावी है।

यदि कमरे के तापमान का पानी काम नहीं करता है, तो गर्म पानी का प्रयोग करें। यह जादू की तरह काम करता है।

टिप नंबर 3: पर्याप्त स्वस्थ वसा खाएं

स्वस्थ पाचन के लिए स्वस्थ वसा का सेवन महत्वपूर्ण है। इसलिए अगर आपको कब्ज़ है और आप कम वसा वाले आहार पर हैं तो यह भी समस्या का हिस्सा हो सकता है। मैं अधिक स्वास्थ्यवर्धक वसा खाने का सुझाव देता हूं, जैसे की एवोकैडो नट्स (avocado nuts) और सल्मोन (salmon) (यदि आप समुद्री भोजन खाते हैं) जैसी चीजें शामिल हैं।

टिप नंबर 4: जड़ी बूटी

कुछ जड़ी बूटियाँ वास्तव में आपको आराम से मल त्याग करने में मदद करती हैं। मुझे व्यक्तिगत रूप से हरितकी (Myrobalan) पसंद है। बस एक छोटी सी खुराक जादू की तरह काम करती है। इसके अलावा, यह पूरी तरह से प्राकृतिक है और इसलिए इसका कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है। इसके अलावा, यह मल को नरम बनाती है और इसलिए यह वास्तव में बवासीर के रोगियों के लिए उपयोगी हो सकती है।

टिप नंबर 5: प्रोबायोटिक्स

हम इन दिनों हर समय प्रोबायोटिक्स के बारे में सुनते हैं, लेकिन हममें से कितने वास्तव में इन्हे पर्याप्त मात्रा में ले रहे हैं। प्रोबायोटिक्स एक स्वस्थ पाचन तंत्र के लिए महत्वपूर्ण हैं और यदि आपको लगातार कब्ज रहता है तो इसका एक कारण यह हो सकता है कि आपका पाचन तंत्र पूर्णतः स्वस्थ तथा उपयुक्त न हो।

टिप नंबर 6: पर्याप्त मैग्नीशियम प्राप्त करें

मैग्नीशियम उन खनिजों में से एक है जो आधुनिक आहार में बहुत कम है और इसलिए हम इसे पर्याप्त मात्रा में नहीं खा रहे हैं। मैग्नीशियम आपको मांसपेशियों को आराम करने में मदद करता है। यदि आपको पर्याप्त मैग्नीशियम नहीं मिल रहा है तो आपको कब्ज़ हो सकता है। मैं अधिक मैग्नीशियम युक्त खाद्य पदार्थ जैसे नट्स और बीज, डार्क चॉकलेट (मेरा पसंदीदा) और पत्तेदार साग खाने की सलाह देता हूं।

टिप नंबर 7: अपनी जीवन शैली बदलें

कब्ज सिर्फ आपके खाने से सम्बंधित नहीं है, यह आपकी जीवन शैली से सम्बंधित भी है। दैनिक व्यायाम और तनाव प्रबंधन पर ध्यान केंद्रित करने से कब्ज के लक्षणों को कम किया जा सकता है। रोजाना टहलने जैसी छोटी सी आदत से भी कब्ज में बहुत फर्क पड़ सकता है। अगर आप तनाव प्रबंधन में रुचि रखते हैं तो मैं आपको ध्यान लगाने (meditation) की सलाह देता हूं।

तो ये हैं कब्ज दूर करने के घरेलु नुस्खे।

आप पर कौन सी टिप ज्यादा अच्छे से काम करती है वह आपको खुद पता करना होगा। ये हर व्यक्ति के लिए भिन्न होगी। इसके अलावा, एक ही विधि समान प्रभावशीलता के साथ हर बार काम नहीं करती है। इसलिए आपको थोड़ा हिट और टॉय करना होगा और खुद इन नुस्खों को आजमाना होगा।

यदि आपने इस लेख से कुछ नया सीखा है और इनमे से किसी टिप ने आप पर अच्छा काम किया है, तो हमें नीचे टिप्पणी अनुभाग में बताएं।

Share on:
comments powered by Disqus